Tradition

गोनोए

हो समुदाय में बुढ़ापा आने पर मृत्यु होने को स्वाभाविक मृत्यु कहा जाता है। स्वाभाविक मृत्यु की लाश को अपने गोत्र के कब्रस्थान ( उकु षासन) में ही दफन (तोपा) करने का पवित्र रिवाज होता है। किसी अन्य गोत्र के कब्रस्थान में दफन करने का रिवाज नहीं है। क्योंकि अपना और अन्य गोत्र का दुपुब दिषुम मरं वोंगा अलग होते हैं.। उसकी आत्मा को पवित्र अदिड. में आत्मा पुकार कर गृह प्रवेश (रोवाँ केया अदेर) Read more…

By HO Dictionary, ago
Culture

बह: पर्व

हो जन जातियों का प्रकृति के स्वभाव एंव गतिविधि के अनुरुप जाड़े के मौसम के जाते-जाते बसन्त के अगमन के साथ मनाया जाता है। यह पर्व साल के फूल को आधार मान कर प्रकृति को सम्मान देने का त्यौहार है. साल के वृक्षों में जब फूल अपने प्रारभिक अवस्था में रहता है,-यहा वह समय है जब साल के फूल की आराधना एंव उपासना करते है। इस सृष्टि मे साल का फूल सबसे निराला है। सृष्टि Read more…

By HO Dictionary, ago
Culture

मागे पर्व

आदिवासी #हो समुदाय के नव वर्ष का पहला और सबसे बड़ा त्योहार है- मागे_पर्व। यह फसल के कटने व खेत खलिहान के कार्य खत्म होने के बाद माघ महीने के पूर्णिमा को मनाया जाता है। इस पर्व के मनाने के पीछे अनेक कहानियां प्रचलित हैं। इनमें नई जगह गांव बसाने की एक कथा भी प्रचलित है। दरअसल, मागे शब्द दो शब्दों का योग है। मा का अर्थ ‘मां’ और गे का मतलब ‘तुम ही हो’ होता है। Read more…

By HO Dictionary, ago
Words

हो’ समुदायों (हुदा्) के पहचान चिह्न

हो’ समुदायों (हुदा्) में घर के दरवाजे में इस प्रकार के पहचान चिह्न के अंकन किये जाते हैंः-     Source: लेखकः डा0 दास राम बारदा केद्रीय धर्म सचिव, हो समाज महासभा, हरिगुटू, चाईबासा

By HO Dictionary, ago
Story

आदिड.

हो आदिवासियों के प्रत्येक परिवार के रहवास में अवस्थित निजी पुरजा स्थल जहाँ कुल देवता अथवा हाम् हो दुम हो की उपासना की जाती है। यह अत्यन्त ही पवित्र स्थल है। यह वंश से बाहर के व्यक्तियों के लिए वर्जित स्थल है। वंश के सदस्य भी शरीरिक पवित्रता की स्थिति में ही प्रवेश पा सकते हैं। आदिंग-हो आदिवासियों की सबसे अहम एंव जरुरी हिस्सा है-जीवन पध्दति का । आदिंग आम तौर पर मकान के उस Read more…

By HO Dictionary, ago
Story

अंतराष्ट्रीय आदिवासी दिवस (world indigenous day)

द्वितीय विश्वयुद्ध के बाद संसार में शांति और व्यवस्था कायम करने के इरादे से वर्ष 1954 में संसार के 189 स्वतंत्र राष्ट्रों ने मिलकर एक अंतराष्ट्रिय संगठन संयुक्त राष्ट्र संघ की स्थापना की थी। इस संस्था का महत्वपूर्ण उद्देश्य यह भी था की संसार में सामाजिक और आर्थिक विकास को बढ़ावा दिया जाए और यह सुनिश्चित किया जाए की दुनिया भर में मानवाधिकारों का सम्मान हो। अंतराष्ट्रिय श्रम संगठन ( आई.एल.ओ.) ने आदिवासिओं के लिए Read more…

By HO Dictionary, ago
Words

किलि

आदिवासी हो’ जनजाति में लगभग 132 गोत्र हैं। प्रचलित लोक कथाओं के अनुसार किलियों(गोत्र) के विभाजन के सम्बंध में अलग-अलग मान्यताएँ प्रचलित हैं। एक विश्वास के अनुसार, कर्म को विभाजन का आधार माना गया है। जैस, आदिकाल में जो मानव सिडवोंगा-पुजा(वोंगाबुरु) आरंभ किए उन्हें “बोबोंगा“ कहा गया। मिट्टी से लेपने काम किए वे हसा-दः या “हांसदः” हुए। घास-पात साफ कर गोबर लगाये वे लः-गुरिः या “लागुरी” कहलाए। इस पुजा में जिन्होंने रस्सी(सिकुवर बयेर) से बांधकर Read more…

By HO Dictionary, ago
Words

आदिवासी हो रूढी और प्रथाएं

  आदिवासी हो होन को… #1. जोनोम सर सिदुबे को            जन्म में तीर को जमीन में धंसाने वाले   मुनु दोस्तुर ओतोंगे को           आदिम विशिष्टता रखने वाले   सरना दोरोम मनातिंग को         सरना धर्म मानने वाले   आदिवासी हो होन को..           आदिवासी हो हैं…   #2. राम्बा-चावली जुड़ी को            उड़द-चावल मिलाने वाले(नामकरण)   जिया-ताता रे सकिन को          दादा-दादी पर नाम रखने वाले   साकि सुतम तोलेन को           दादा दादी के नाम पर धागा बांधने वाले Read more…

By HO Dictionary, ago
Words

worship place of the HO society

हो समाज रे मोए हो रेया वोंगा-बुरु टायेड १   1 –      देषाउलि – जयरा (सरना स्थल) २   2 –      पऊँइ ( पवित्र पउणी स्थल) ३   3 –      अकड़ा (पूजा अखाड़ा) ४   4 –      जतरा वोंगा ( जतरा स्थल) ५   5 –      सीमा वोंगा ( अषाड़ीया पूजा) ६   6 –      जंतड़ा वोंगा (जन्ताल पूजा) ७   7 –      नगे सूंड ( जल देवी स्थल) ८   8 –      बड़ाम हर ( रथ यात्रा स्थल) ९   9 –      गोट वोंगा ( मनोरंजन एवं गोचर स्थल) १  10 –  तांडी Read more…

By HO Dictionary, ago